पूरब की बेटी

पूरब की बेटी
 बेबस,  और ,निरीह ,औरत ,  को         ,     पद, मान, दिलाने ,वाली ।
पाकिस्तानी  ,   तंग   ,गलियौं,  मैं         , सम्मान ,   दिलाने ,   वाली । 
परदा , छोड़ ,  मंचौ , से, भाषण           ,   वाणी,  से ,  ताकतवर,   थी ।
इस्लाम     , नारी , नेता ,    ”गुपाल ”      ,   शक्ती    ,की    रिचायक थी ।
पंथ ,नये   ,ले  ,जाने     वाली                ,       महाविनाश  ,  राही को ।
मुरझा गई ,पथ, वह,          दिखा गई        ,कठ मुल्ला      ,रुसबाई     को । 
            शांति ,समृद्वि ,विकास,  पथ खोले  ,  खुली ,   हवा की , खिडकी  थीं । 
उन्नती , के ,    गलियारौं     ,मैं     ,भी       ,     ,दस्तक ,देती , लडकी ,थी । 
  ,अबला की , सबल  हुंकारौं , से                 ,     भारी   , जन ता,ताकत, पाई । 
                   था   उग्रवाद  कमजोर     हो गया                          ,अवाम , वो            ,भाई        , भाई । 
रूढ़िवादी , आतंकौं ,की ,वह             ,     पैनी  , सी      , काट ,वही , थी । 
जीवंत रूप मानव पृकती               ,      चारों ,ही दिशा ,खुली थी । 
लड ,  रही  थी, जंग भेडियौं से         ,             शोणित,पीते , जीते हैं । 
मानवता  ,करी  ,   तार   , तार ,.    जिन               ,               हुक्मरान बन जीते हैं ।
काट ,मार ,और, कृत्य,घिनौने ,             ,  मुल्लाऔं ,,को ,भाते, हैं ।
इस्लाम,होय ,बदनाम ,परन्तु ,             ,    वो ,सब ,उचित, बताते, हैं । 
हार,  सभी, आतंक ,प्रदाता               ,       गोली  ,  का  ,   लिया ,     सहारा । 
लानत ,     कायरो , है    , तुम  सब  पर            ,                   औरत ,को ,छुपकर, मारा । 
छलनी ,कर दीना ,उनने ,उसी                              ,                        पाक राज की रानी को । 
लाखौं ,लोगौं की ,ताकत ,   वो                    ,स्वप्निल    ,          जिंदगानी को । 
कहो, क्या कठमुल्ले जीत गये                      ,                     तेरे दैहिक मरने से । 
अबलाऔं ,  की     ,   सबला   बेनजी                  ,        तेरा                 सीना छलने से ।
पूरब की ,बेटी अमर,    होयै                                 ,          जग मैं ये                        बलिदान तेरा । 
कीर्तिवान तुम होओगी जब                                   ,                                        सुमरेगा वतन तेरा /

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *