हिन्दी हिन्दुस्तान 

हिन्दी हिन्दुस्तान 
 
पखवाडौ ,हिंदी, मनैं     ,” गुपाल  “ गाथा, , गॉय । 
दै ,विसार, फिर ,साल   ,भर ,बैठै ,मौज ,मनॉंय । 
बैठै, मौज, मनॉंय ,    देख ,कें ,अग्रेजी, मूवी ।
बहस ,होय ,अंग्रेजी, में, सब, नेतान, की, खूबी । 
अग्रेजी, में, जगें ,सोय ,रहै, अंग्रेजी, में ।
अंग्रेजी ,में, नमन ,करें ,फटकारें ,अंग्रेजी, मैं ।
इंगलिश ,मैं ,ही ,प्यार, करें, इंगलिश, मैं ,तकरार, करैं । 
अंगरेजी के ,जानन ,वारे ,सब, सपने, साकार ,करैं ।
अचरज ,अति ,गोपाल ,चहूँ, दिश, अंग्रेजी,  की, माया । 
हिन्दी के, दरशन ,हू ,दुरलभ, केवल, जनता , काया  । 
अंग्रेजी ,भयौ, पेय, छोड, गये, दूध ,दहीन, कूँ  । 
अंग्रेजी ,स्कर्ट ,लुभावैं ,अंग्रेजी, छोरान कूँ । 
भगादिये ,अंग्रेज, हौम ,तन ,दिये ,बहुत, वीरन, नैं ।
इंगलिश ,लई, घुसाय, उन्हीं, की, संतानन ,नैं । 
जन जन, अपनावै ,हिंदी, छोडै ,अंग्रैजन ,की ,भाषा । 
मॉं ,हिन्दी, जबहि, पनपैगी, बनै ,देश, की ,आशा । 
तबहि ,होय, उद्धार ,देश, कौ ,तबहि, तौ ,शिरमौर ,बनैं । 
अवनति ,हिंदी, हौंत ,रही, तौ ,भारत, इंगलिश्तान ,बनै । 
आओ ,प्रण ,लैं, आज, सबही,  जुरि मिल ,काम ,करिंगे, हम । 
” गुपाल  ” अंग्रेजी  कार्यों का , निश्चत, ,  वहिष्कार ,करिंगे  ,हम /

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *