ईश्वर रूपी माँ

                                [ १  ]

                     

      [ १  ]
प्रथम गुरु भगवान तुही  माँ   , तू ही   जीवन   दाता   माँ ।
लेना लेना सब जग चाहे       ,  तू ही   प्रथम  प्रदाता  माँ  ।
कुछ भी नहीं चाहिये  तुझको ,झलक मेरी  मुस्काती  माँ  ।
भूखी प्यासी नंगी गीली        , संतति सुख इठलाती माँ   ।

जब तक तेरी सीखें मानी  ,    तब तक  ख़ुशी रहा मैं   माँ ।
खाया पीया , खेला कूदा      ,    आनंद   राग लुभाया  माँ ।
जब जब भिडंत  भई मित्रों से , मुझे  निर्दोष बताया  माँ  ।
कोई कितना भी गर्म हुआ  ,    तू  तो शीतल छाया   माँ    ।

स्नेह इत्र रग रग छिडकाया ,    महक महक  महकाया माँ।
छोटी मोटी गलती कीनी      ,  मात  पास तेरे  आया  माँ  ।
हाथ रखा सिर अंक बिठाया ,   प्यार प्यार समझाया माँ  ।
राह बताई सीधी सारी          , जीवन रूप दिखाया  माँ     ।

बड़ा हुआ मां हटा आवरण    जगत धुप झुलसाया माँ     ।
श्रम असाध्य जग आपाधापी   निकट बैठ हर्षाया माँ     ।
प्यार पाठ तू प्यार शिखर    प्यारी प्यारी ममता माँ      ।
सीखें प्यारी सिखवन प्यारी    प्यार प्यार खुशहाली माँ ।

नख नख तीरथ राजें तेरे      क्यों तीरथ मैं जाऊँ माँ      ।
बिन मांगे मन भरनी करनी    गुपाल शीश नवाता माँ  ।

[ २  ]

केवल जगत निस्वार्थ प्रेम की,तू जननि है अमर कहानी ।

संतति के दुःख के पल पल पर ,नैन बहै  नेह का     पानी ।

सुख के हर पल मै मुस्काना   , देख देख  संतति की सूरत।

शब्द कहाँ से लाऊँ माँ मैं      ,हे भोली प्यारी    सी मूरत   ।

बेटा बेटी कैसे भी हों               परम  हितु  ,अंक रहै खाली ।

सारे कष्ट स्वयं लेने को          ,आतुर रहै   ,   ममता वाली।

तेरा कर्ज अदा हो कैसे             , यही  सोच सिहर जाता हूँ ।

स्वेत केश की धवल छटा मै    ,  कर शीश  तेरा   पाता   हूँ ।

 

    शब्द कहाँ जो कीरत गाउँ ,ध्यान  करूँ तेरे चरनन     का।  

बार बार दरशन की इच्छा  ,अमर  तीर्थ ये     जीवन   का ।

पूजूँ पग जग  पुण्य प्रदाता ,निशदिन जय जय मात  तेरी।

लम्बी उमर सदां सुख पावै ,गुपाल प्रभू पुरवौ           मेरी ।

जननी जग मैं तू ही निरमल      ,   और  रूप महामाता  ।

कभी न माँगा तू तौ दाता         ,   जीवन  जन्म विधाता ।

ईश्वर गुरु का रूप तूही               ,  जय जय तेरी   माता ।

गुपाल वंदना मातृशक्ति की     ,      श्रद्धा शीश नवाता   ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *